Football: इंडिया बना सैफ चैंपियनशिप का 9वी बार विजेता, जानिए इसके बारे में!

Mahir SR
3 Min Read

सैफ चैंपियनशिप साउथ एशियन टीमों की एक फुटबॉल प्रतियोगिता है जिसमें साउथ एशिया की जितनी भी टीमें फुटबॉल खेलती है वह सब इस टूर्नामेंट में भाग लेती है और यह टूर्नामेंट इन्हीं में से किसी एक देश में आयोजित किया जाता है इस टूर्नामेंट में कुछ टीमें साउथ एशिया के बाहर की भी होती है जैसे कि कुवैत हो गई और लेबनान वैसे तो यह टीम साउथ एशिया में नहीं पड़ती फिर भी यह सैफ चैंपियनशिप में खेलती है सैफ चैंपियनशिप की सबसे सफल टीम भारत है क्योंकि भारत ने ही इस टूर्नामेंट को सबसे ज्यादा बार जीता हुआ है और भारत के करीब भी कोई टीम नहीं आती जो कि भारत को इस टूर्नामेंट में हरा सके

इंडिया 9वी बार जीत सैफ चैंपियनशिप

इंडिया ने 2023 में हुए सैफ चैंपियनशिप को जीत लिया है और इस प्रकार इंडिया ने नवमी बार इस प्रतियोगिता को जीता है इससे पहले भारत 13 में से 8 बार इस प्रतियोगिता को जीत चुका था और इस साल भारतीय फुटबॉल टीम ने फाइनल में कुवैत का सामना करना पड़ा जिसमें की दोनों टीमों किसको लाइन 1-1 रही जिसकी वजह से भारत ने कुवैत को पेनल्टी शूटआउट में 4-5 किसको लाइन से हराकर इस प्रतियोगिता को जीतकर उसने इसे नववी बार अपने नाम कर लिया इस साल की प्रतियोगिता में भारत अपना कोई भी मैच नहीं आ रहा था और लगातार सभी टीमों को हराते हुए अपनी जगह फाइनल में बनाई थी और इस साल के सैफ चैंपियनशिप की सबसे बड़ी खासियत यह थी कि इस साल भारतीय फुटबॉल टीम को सपोर्ट करने के लिए ढेर सारे लोग ग्राउंड में आ रहे थे जिससे कि भारतीय फुटबॉल टीम को बहुत ही ज्यादा प्रोत्साहन मिल रहा था।

सैफ चैंपियनशिप में सबसे सफल टीम

सैफ चैंपियनशिप 1993 खेली जा रही है और तब से लगातार भारतीय फुटबॉल टीम का इस टूर्नामेंट में दबदबा रहा है क्योंकि भारत की टीम ने ही इस टूर्नामेंट को सबसे ज्यादा बार जीता है अब तक सैफ चैंपियनशिप 14 बार खेली जा चुकी है और यह हर 2 साल पर खेली जाती है जिसमें की इन 14 प्रतियोगिताओं में भारत 9 बार जीत चुका है और बाकी की 5 बार बाकी की अन्य टीमों ने इस प्रतियोगिता को जीता है ऐसे में साउथ एशिया के रीजन में सबसे मजबूत जो टीम फुटबॉल खेलने वाली है वह भारत ही है क्योंकि भारत के पास ऐसे खिलाड़ी हैं जो कि दुनिया भर में फेमस है और आप तो जानते ही हैं सुनील छेत्री इस टाइम इंटरनेशनल फुटबॉल में गोल स्कोर करने के मामले में मेसी और रोनाल्डो के बाद तीसरे नंबर पर आते हैं जिसकी वजह से आज के समय में भारतीय फुटबॉल इतनी ज्यादा तरक्की कर रहा है।